मार्ग पर चल सांसारिक दु:खो से मुक्त हो

1011

मार्ग पर चल सांसारिक दु:खो से मुक्त हो

पांच सौ भिक्षुओं की कथा

वहा की जमीन उबड़-खाबड़ है तो वहा जमीन समतल और उपजाऊ | उस रास्ते से जाने पर कांटे मिलेंगे पर फला तरफ जाने से रास्ते में कांटे नहीं मिलेंगे | उस तरफ छायादार वृक्ष है तो उस मार्ग पर कोई वृक्ष है ही नहीं |”

105

103

 

Leave a Comment