सही धर्मधर कौन है ?

130

सही धर्मधर कौन है ?

थेर एकुदान की कथा

यह गाथा बुद्ध ने एक भिक्षु के संदर्भ में कही जो अहर्त हो गया था |

यह भिक्षु श्रावस्ती के पास ही एक वन-खंड में रहता था | उसे लोग एकुदान पुकारते थे क्योकि उसे एक ही (गाथा) उदान पूरी तरह याद थी | “उच्च विचारो वाले, सतत सजग, क्षमाशील, सतर्क, शांत भिक्षु को दु:ख नहीं सताते |” लेकिन यह भिक्षु यधपि एक ही गाथा जानता था पर वह इस गाथा द्वारा प्रतिपादित अर्थ को पूरी तरह जानता था | प्रत्येक उपोसथ के दिन वह सबों को धर्म-श्रवण करने के लिए कहता था और स्वय उस उदान को गाकर सुनाता था | उसकी एक ही गाथा को सुनकर वन देवता उसका साधुवाद करते थे और इस प्रकार वह जंगल उनकी प्रशंसा से गुंजित हो उठता था |

किसी उपोसथ के दिन ज्ञानी भिक्षु, जो त्रिपिटक के विद्वान थे, अपने भिक्षुओं के साथ वहा पधारे | एकुदान ने उन दोनों बुजुर्ग भिक्षुओं से धर्म प्रवचन करने की प्रार्थना की | उन्होंने चाहा कि क्या इस दूर-दराज की जगह पर बहुत सारे श्रोतागण थे | एकुदान ने ‘हा’ में उत्तर दिया और यह भी कहा कि यहाँ वन देवता भी आते थे और धर्म-प्रवचन के बाद प्रशंसा करते थे तथा साधुवाद देते थे | इसलिए दोनों त्रिपिटकाचार्य ने एक-एक कर व्याख्यान दिया लेकिन जब उनके व्याख्यान समाप्त हुए, तब जंगल के देवतागण की ओर से किसी भी प्रकार का साधुवाद नहीं हुआ | दोनों ज्ञानी भिक्षु आश्चर्यचकित हो गए और उन्हें संदेह हुआ कि एकुदान ने सच कहा था या नहीं | लेकिन एकुदान ने दोहराया कि वन देवता सदा आते थे तथा गाथा के अंत में साधुवाद देते थे | अत: दोनों आचार्यो ने स्वय शिक्षा देने के लिए कहा | एकुदान ने उसी एक गाथा को गाकर सुना दिया जो उसे याद था | उस गाथा के अंत में वन देवता पुन: सदा की तरह साधुवाद देने लगे | उन दोनों विदवान के साथ जो भिक्षु आए थे उन्होंने शिकायत कि वन में रहने वाले देवता पक्षपात कर रहें थे | जेतवन विहार आने पर इस घटना की जानकारी शास्ता को दी गई | बुद्ध ने उन्हें समझाया, “भिक्षुगण ! मै नहीं कहता कि एक भिक्षु जो बहुत कुछ जानता है और धर्म के बारे में बहुत कुछ बोल सकता है, वह सचमुच ही स्वय धर्मंनिष्ठ है | जिसने सिर्फ थोडा सिखा है और धर्म का सिर्फ एक पाठ ही जानता है पर चार आर्य सत्य को खूब अच्छी तरह समझता है और सदैव सतर्क और जागरूक रहता है, वस्तुत: वही धर्म स्थित कहा जा सकता है |”

131

132

One Reply to “सही धर्मधर कौन है ?”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *