नाम में क्या रखा है ?

नाम में क्या रखा है ? मछुआरे की कथा यह गाथा बुद्ध ने जेतवन में एक मछुआरे, जिसका नाम आर्य था, को संबोधित कर कही थी | एक दिन उन्होंने अपनी अंतदृष्टी से देखा कि मछुआरा स्त्रोतापप्न स्थिति प्राप्त करने के लिए परीपक्व था | अत: भिक्षाटन से लौटते समय, बुद्ध अपने भिक्षुओं के साथ … Read more

सभी आस्त्रोवो को समाप्त करना आवश्यक है

सभी आस्त्रोवो को समाप्त करना आवश्यक है कुछ भिक्षुओं की कथा यह देशना बुद्ध ने जेतवन में कुछ शील सम्पन्न भिक्षुओं के संदर्भ में कही थी | कथा के अनुसार एक समय कुछ भिक्षुओं ने मन में सोचा, “हमने सभी सद्गुणों को प्राप्त कर लिया है, हम शील में स्थित है; हम पवित्र जीवन जीते … Read more

दृढ़ प्रतिज्ञा ही निर्वाण पायेंगा

दृढ़ प्रतिज्ञा ही निर्वाण पायेंगा कुछ भिक्षुओं की कथा जब बुद्ध ने उनका जवाब सुना तब उन्हें समझाते हुए कहा, “भिक्षुओं ! किसी भी भिक्षु को जो शिलादि व्रत से परिशुद्ध हो चूका है या अनागामी की स्थिति में पहुच चूका है, यह नहीं सोचना चाहिए कि थोडा-सा सांसारिक दु:ख जितना बाकी है क्योकि सभी … Read more