सच्चा ज्ञान : मुनि की पहचान

सच्चा ज्ञान : मुनि की पहचान तिर्थिको की कथा टिप्पणी : मौन रहना मुनि का एक गुण है | मुनि के अंदर और भी गुण होने चाहिए और मौन रहना उनमे से एक गुण है | यह मौन रहना, हो सकता है, उसके अज्ञान के कारण हो | जैसे रुई तौलने वाला एक तरफ रुई … Read more

नाम में क्या रखा है ?

नाम में क्या रखा है ? मछुआरे की कथा यह गाथा बुद्ध ने जेतवन में एक मछुआरे, जिसका नाम आर्य था, को संबोधित कर कही थी | एक दिन उन्होंने अपनी अंतदृष्टी से देखा कि मछुआरा स्त्रोतापप्न स्थिति प्राप्त करने के लिए परीपक्व था | अत: भिक्षाटन से लौटते समय, बुद्ध अपने भिक्षुओं के साथ … Read more

सभी आस्त्रोवो को समाप्त करना आवश्यक है

सभी आस्त्रोवो को समाप्त करना आवश्यक है कुछ भिक्षुओं की कथा यह देशना बुद्ध ने जेतवन में कुछ शील सम्पन्न भिक्षुओं के संदर्भ में कही थी | कथा के अनुसार एक समय कुछ भिक्षुओं ने मन में सोचा, “हमने सभी सद्गुणों को प्राप्त कर लिया है, हम शील में स्थित है; हम पवित्र जीवन जीते … Read more

दृढ़ प्रतिज्ञा ही निर्वाण पायेंगा

दृढ़ प्रतिज्ञा ही निर्वाण पायेंगा कुछ भिक्षुओं की कथा जब बुद्ध ने उनका जवाब सुना तब उन्हें समझाते हुए कहा, “भिक्षुओं ! किसी भी भिक्षु को जो शिलादि व्रत से परिशुद्ध हो चूका है या अनागामी की स्थिति में पहुच चूका है, यह नहीं सोचना चाहिए कि थोडा-सा सांसारिक दु:ख जितना बाकी है क्योकि सभी … Read more

श्रेष्ठ क्या है ?

श्रेष्ठ क्या है ? पांच सौ भिक्षुओं की कथा       जेतवन का बौद्ध विहार, सांय काल की बेला थी | सूर्य देवता अस्त हो चुके थे | रात अपनी काली चादर ओढ़कर उतरने लगी थी और उधर तारे भी आकाश में टीमटीमाने लगे थे | ठंडी-ठंडी हवा मंद-मंद बह रही थी | विहार में पूर्णत: … Read more

मार्ग एक ही है

मार्ग एक ही है पांच सौ भिक्षुओं की कथा उनकी बातचीत और साधारण लोगों की बातचीत में कोई अंतर नहीं था | सांसारिक लोगों की तरह वे भी गप्पे मार रहें थे | वरन उनकी चर्चा का विषय है – सांसारिक चीजे, सारी की सारी चर्चा अंतयात्रा से सम्बन्धित न होकर अहिर्यात्रा से ही सम्बन्धित … Read more

भगवान बुद्ध का कुल

भगवान बुद्ध का कुल ईसा पूर्व छठी शताब्दी में उत्तर भारत सर्व-प्रभुत्व संपन्न एक राज्य न था | देश अनेक छोटे बडे राज्यो में बटा हुआ था | इनमे से किसी-किसी राज्य पर एक राजा का अधिकार था, किसी-किसी पर एक राजा का अधिकार न था | जो राज्य किसी एक राजा के अधीन थे … Read more