धर्ममार्ग पर न्यायी कौन है ?

धर्ममार्ग पर न्यायी कौन है ? न्यायाधीश की कथा इस प्रकार उपदेश देते हुए बुद्ध ने ये गाथाये कही | टिप्पणी : बौद्ध धर्म की रीढ़ है – “कर्म का सिधान्त” अर्थात हम जैसा बोयेंगे वैसा ही काटेंगे | कांटे बोयेंगे तो कांटे काटेंगे और फुल बोयेंगे तो फुल ही काटेंगे | यह प्रकृति का … Read more