दुसरों को कष्ट देना : सबसे बड़ा पाप

दुसरों को कष्ट देना : सबसे बड़ा पाप मुर्गी के अंडे खाने वाले की कथा श्रावस्ती नगर के निकट पण्डुर नामक एक गाव था | जहा एक महिला रहती थी | उसे मुर्गी के अंडे बहुत अच्छे लगते थे | उसने एक मुर्गी पाल रखी थी | मुर्गी जब भी अंडे देती, वह अंडे खा … Read more